जिन राशन कार्डधारकों की आधार सीडिंग नहीं हो पाई है, तो ऐसे करें आधार सीडिंग, तब मिल जायेगें 1000 रूपए

4,004

नई दिल्ली : कोरोना वायरस से निपटने के लिए केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारें भी अपने स्तर पर प्रदेश के लोगों को का पूरा प्रयास रही है। इसी बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ऐलान किया कि लॉकडाउन के मद्देनजर सभी राशन कार्डधारकों को DBT के जरिए मदद के रूप में 1000 रुपये प्रति परिवार दिया जाएगा। हालांकि इसके लिए राशन कार्ड से आधार लिंक होना जरूरी है।

आ गई नई सरकारी नौकरियां जल्दी करें :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 

वहीं मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि DBT की गति तेज करें ताकि लाभार्थियों को कम-से-कम समय में पैसा ट्रांसफर करने की जा सके। वहीं जिन राशन कार्डधारकों की आधार सीडिंग नहीं हो पाई है, (aadhar card Seeding tips ) उनकी सीडिंग जल्द कराकर एक हजार रुपये का भुगतान करें।

loading...

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

क्या है सीडिंग-

आधार कार्ड को बैंक खाता से जोड़ना आधार सीडिंग कहलाता है। इससे सरकार को अपनी योजनाओं को लागू करने में आसानी होगी तथा योजनाओं से मिलने वाली सब्सिडी ग्राहक के खाते तक आसानी से पहुंचाया जा सकता है।

कैसे करें आधार सीडिंग-

1-ऑनलाइन- बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने का काम घर बैठे ऑनलाइन किया जा सकता है।

2-एसएमएस- एसएमएस द्वारा भी आप आधार नंबर अपने अकाउंट से लिंक कर सकते हैं। इसके लिए आपका नंबर बैंक के साथ रजिस्टर होना चाहिए।

3-एटीएम- एसबीआई समेत कुछ बैंक एटीएम के माध्यम से भी आधार कार्ड लिंक करने की सुविधा दे रहे हैं।

4-बैंक के द्वारा- इसके अलावा आपका जिस बैंक में अकाउंट है उसके ब्रांच को विजिट कर भी आधार सीडिंग करवा सकते हैं। आधार केंद्र या जनसुविधा केंद्र में भी ऑफलाइन करवाया जा सकता है।

सरकारी नौकरियां यहाँ देख सकते हैं :-

सरकारी नौकरी करने के लिए बंपर मौका 8वीं 10वीं 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन 1000 से भी ज्यादा रेलवे की सभी नौकरियों की सही जानकारी पाने के लिए यहाँ क्लिक करें 
अपनी मन पसंद ख़बरे मोबाइल में पढ़ने के लिए गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करे sabkuchgyan एंड्राइड ऐप- Download Now

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.