अगर चाहते हैं जल्दी हो आपकी शादी, तो इस दिन करें ये उपाय

2,252

गुरुवार व्रत करना बहुत फलदायी होता है। अगर जीवन मे सबकुछ सही रखना है तो गुरुवार व्रत बहुत फलदायी होता है।गुरुवार विशेष तौर पर शादी और विवाह के लिए किया जाता है। जिनकी शादी मे देरी हो रही हो या योगय वर या वधू के लिए गुरुवार व्रत किया जाता है। इस व्रत को शुक्ल पक्ष के किसी भी गुरुवार से प्रारंभ करना चाहिए। इस दिन सुबह नित्य क्रिया से निवृत होकर स्नान आदि करके विष्णु भगवान की पूजा खरे। इस दिन केले के वृक्ष मे जल चढ़ाना और पूजा करना चाहिए।

ध्यान रहे कि चावल इस पूजा मे न चढ़ाए। इस दिन साबुन नहीं लगाना चाहिए और कपड़े भी नहीं धोने चाहिए।शेविंग नहीं करनी चाहिए और बाल भी नहीं धोने चाहिए। पीले कपड़े धारण करें और पीली चंदन ,पीले फूल और हल्दी को भगवान को समर्पित करें। प्रसाद मे चने की दाल और cचढ़ाया जाता है।
loading...

लड्डू भी भोग मे चढ़ाया जाता है।सभी सामग्री चढ़ाने के बाद गुरुवार व्रत कथा पढ़ें।तुलसी पत्र और तुलसी दल जरूर भगवान को चढ़ाए और भोग मे भी चढ़ाए क्योंकि भगवान विष्णु को तुलसी बहुत पसंद है और इसे चढ़ाने से भगवान प्रसन्न होते हैं।अंत मे विष्णु भगवान की आरती करें और प्रसाद बांटे।

दिन मे आप फलाहार कर सकते हैं और रात्रि मे एक बार पीला भोजन करें जैसे पूरी और हल्वा।मनोकामना पूरी होने के बाद व्रत का उद्यापन करना चाहिए।उद्यापन मे पीले वस्त्र और पीली सामग्री विष्णु मंदिर मे दान करें।

Comments are closed.