आश्चर्यजनक तथ्य हिन्दी भाषा के बारे में

320

Interesting facts About Hindi Language

हिन्दी भाषा को मध्य भाषाओं और इंडो-आर्यन भाषाओं के सेंट्रल भाग के रूप में जाना जाता है हिन्दी उत्तर भारत में बोली जाने वाली एक सातत्य बोली या भाषा है.… परंतु आज भारत की बड़ी आबादी हिन्दी बोल और समझ सकते हैं

आश्चर्यजनक तथ्य हिन्दी भाषा के बारे में :

हिन्दी भारत की अधिकारिक-भाषा में से एक हैं , हिन्दी ना केवल भारत में बल्कि दुनिया  की कई देशो  में भी बोली जाती है और दुनिया में आज अपना एक अलग  स्थान रखती है। अपनी अदभुत स्वभाव के  कारण आज हिन्दी किसी  की मोहताज नहीं  है ,आज हिन्दी किस तरह अपनी पहचान बना चुकी है, इसका ताजा उदाहरण हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की हालिया  अमेरिका  यात्रा से जाना जा सकता है। जहां प्रधानमंत्री मोदी ने Facebook की ओर से आयोजित एक आयोजन  में हिन्दी में ही सवांद  किया जबकि उस आयोजन को Facebook के  जनक मार्क ज़ुकरबैग अंग्रेजी भाषा  में संबोधित  कर रहे थे। इस तरह मोदी ने हिन्दी में सवांद  कर के हिन्दी को एक अलग मुकाम पर पहुंचा दिया है।

यह हम हिन्दी भाषियों के लिए गर्व  के  झण (Moment)  में से एक है। हिन्दी को लेकर कुछ ऐसे ही तथ्य  है जो साधरणत्या   इसे अदभुत  बनाते हैं, जिन्हें नीचे दिया गया है-

  1. हिन्दी संस्कृत का अपभ्रंश है। संस्कृत को देवों की भाषा भी कहा जाता है। हिन्दी और संस्कृत दोनों को देवनागरी लिपि में ही लिखा जाता है। देवनागरी लिपि का मतलब होता है देवों के यहां लिखी जाने वाली लिपि
  2. भारत में आज के समय बोली जाने वाली हिन्दी को आधुनिक  हिन्दी या मानक हिन्दी कहा जाता है।
  3. पूरे विश्व में 500 मिलियन से भी ज्यादा लोग हिन्दी बोल और समझ सकते हैं। जो इसे विश्व की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से एक बनाता है।
  4. हिन्दी 40 प्रतिशत से ज्यादा भारतीयों की मातृभासा  है।
  5. हिन्दी को सीखने के हिसाब से सबसे सरल  भाषा में से एक कहा जा सकता है क्योंकि इसे जैसा लिखा जाता है वैसा ही पढ़ा भी जाता है। हिन्दी में प्रत्येक  शब्द के अक्षर का अलग ही स्वर  होता है जो इसे बाकि भाषाओं से ज्यादा शक्तिशाली  बनाता है।
  6. भाषाई रूप से हिन्दी और उर्दू दोनों एक ही भाषाएं है। हिन्दी को जहां देवनागरी लिपि  में लिखा जाता है और इसमें संस्कृत के शब्दों की भरमार है। वहीं उर्दू को पर्सियन लिपि  में लिखा जाता है औऱ इसमें पर्सियन शब्द ज्यादा है।
  7. हिन्दी भारत की उन सात भाषाओं में से एक है जिनसे वेब पता (Website Address )  बनाया जा सकता है।
  8. केवल भारत ही नहीं हिन्दी मॊरीशस, नेपाल, त्रिनिदाद, टोबेगो, गुआना, फीजी आदि देशों में बड़ी संख्या में बोली जाती है।
  9. हिन्दी भाषा में कुल 11 स्वर और 33 व्यंजन होते हैं, प्रत्येक शब्द का निर्माण इन्हीं से होता है। हिन्दी भाषा को बांये से दायें लिखा जाता है,अंग्रेजी की रोमन लिपि में जहां कुल 26 वर्ण हैं, वहीं हिंदी की देवनागरी लिपि में उससे दोगुने 52 वर्ण हैं।
  10. भारतीय संविधान में 14 सितम्बर , 1949 को हिन्दी की देवनागरी लिपि को अधिकारिक तौर पर मान्यता प्रदान की गई है। इसलिए 14 सितम्बर को हर साल “हिन्दी दिवस” भी मनाया जाता है।
  11. लेकिन हिन्दी अपनाने के मामले में बिहार ने पूरे भारत को पीछे छोड़ दिया था जब वर्ष 1881 में बिहार ने उर्दू को छोड़ हिन्दी को अपनी एकमात्र अधिकारिक-भाषा  बना लिया था। और ऐसा करने वाला भारत का पहला राज्य  था।
  12. अंग्रेजी भाषा में कई सारे शब्दॊ को हिन्दी से भी लिया गया है। जैसे Bazaar  – बाजार ,Thug-ठग, Avatar-अवतार, Yoga-योग, Guru-गुरू, Karma-कर्म आदि। ये तो बस उदाहरण स्वरुप है।
  13. हिंदी भाषा में कोई ऐसा Article नही है जैसे English में ‘the’ और ‘a’ है।
  14. ‘नमस्ते’ शब्द हिंदी भाषा में सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाने वाला शब्द है।
  15. हिन्दी शब्द को पर्सियन भाषा के शब्द हिन्द से लिए  गय है।
  16. हिन्दी के अधिकारिक स्वीकृत  48 स्वरुप है। मतलब ये सब भाषाई रुप से तो समान है लेकिन इनका उच्चारण  थोड़ा अलग होता है।
  17. वर्ष 1805 में लल्लूलाल द्वारा लिखी गई किताब  प्रेम सागर को खड़ी बोली(जो हिन्दी का ही एक स्वरुप  है) की पहली किताब माना जाता है।
  18. वहीं देवकी नन्दन खत्री द्वारा वर्ष 1888 में लिखे गये “चन्द्रकांता” को आधुनिक हिन्दी का पहला authentic work कहा जाता है।
  19. हिन्दी भाषा के सबसे प्रषिध लेखक मुंशी प्रेमचंद का वास्तविक नाम धनपत राय श्रीवास्तव था। जिनका जन्म 31 जुलाई 1880 को उत्तरप्रदेश के लम्ही गांव में हुआ था।
  20. आज भी United States America के 45 विश्वविद्यालय सहित पूरे World के लगभग 176 विश्वविद्यालयों में हिन्दी की पढ़ाई जारी है।
  21. हिंदी भारत की उन 7 भाषाओं में से एक भाषा है जिसका इस्तेमाल Web addresses (URLs) बनाने के लिए किया जाता है।
  22. Google ने कहा है कि ‘’इंटरनेट पर हिंदी कंटेंट की खपत अब बढ़ना शुरू हो गई है। यह साल-दर-साल English कंटेंट के 19 प्रतिशत ग्रोथ के मुकाबले 94 प्रतिशत बढ़ती जा रही है
  23. सन् 2000 में हिंदी का पहला Web-portal अस्तित्त्व में आया था तभी से इंटरनेट पर हिंदी ने अपनी छाप छोड़नी प्रारंभ कर दी जो अब रफ्तार पकड़ चुकी है।
  24. हिंदी की पहली कविता प्रख्यात कवि ‘अमीर खुसरो’ ने लिखी थी।
  25. 1977 में विदेश मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पहली बार संयुक्त राष्ट्र की आम सभा को हिंदी में संबोधित किया।
  26. आपको यह जानकर भी हैरानी होगी कि हिंदी भाषा के इतिहास पर पहले साहित्य की रचना भी ग्रासिन द तैसी, एक फ्रांसीसी लेखक ने की थी।
  27. A Basic Grammar of Modern Hindi नाम से भारत सरकार की ओऱ से वर्ष 1958 में हिन्दी व्याकरण  सिखाने वाली एक किताब छापीं की गई थी।
  28. हिन्दी साहित्य की चार भाग  है- भक्ति, श्रृंगार, वीरगाथा और आधुनिक साहित्य।
  29. हिन्दी चाहे भारत की अधिकारिक-भाषा में से एक हो। लेकिन भारत की कोई भी राष्ट्रीय भाषा नहीं है। हिन्दी को राष्ट्रीय भाषा बनाने के लिए लम्बे समय से बह्स  चल रही है, लेकिन इस पर अभी तक मुहर नहीं लगी है।
  30. हिन्दी को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाले हिंदी अखबार ही है। उन्होंने अंग्रेजी, अरबी और फारसी भाषा के शब्दो को जान-बूझकर अखबारों में ठूंसकर उन्हें प्रचलन में ला दिया।

दुनिया के रोचक तथ्य जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

अगर आपको  मेरा यह पोस्ट अच्छा लगा तो कृपया share करें।
नीचे दिये गये बाक्स मे अपने विचार लिखिये । इस लेख को पढ़ने के लिये धन्यवाद,!

 

 

 

 

loading...

loading...