सम्मानजनक स्थिति व समृद्धि के लिए पाने के लिए ज्योतिष उपाय

0

सम्मानजनक स्थिति पाने के लिए

शुद्ध तिथि वार के दिन ज्येष्टा नक्षत्र होने पर जामुन की जड़ लाकर पास में रक्खें। राज्यकृपा एवं मित्रों आदि से सम्मान की स्थिति बनने लगेगी।

समृद्धि के लिए मोती

शुद्ध चांदी में जापानी मोती की अंगूठी अपनी अंगुली के नाप की बनवाएं। शुक्लपक्ष में सोमवार के दिन प्रातः उठ कर अंगूठी को गंगा जल में धो लें। फिर उसे गाय के दूध में डाल दें। दूध इतना अवष्य लें कि अंगूठी डूब जाए। इस दूध में थोड़ी चीनी, कुछ तुलसी के पते श्यामा तुलसी का विशेष महत्व है’ तथा कुछ सफेद पुष्प डाल दें। कटोरी को अपने इष्ट देव के सामने रख दें। अपनी कोई पूजा आदि करनी हो, तो करें तथा सूर्योदय के बाद, 90 मिनट के अंदर इस अंगूठी को दूध में से निकाल कर अपनी अंगुली में पहन लें। व्यापारियों, उद्योगपतियों तथा निर्यातकों के लिए कारोबार में मनवांछित सफलता संभव होगी।

सर्वत्र सफलता प्राप्ति हेतु

गुरुवार के दिन जब पुश्य नक्षत्र हो, उस दिन एक भोज पत्र का चौकोर टुकड़ा लें। भोज पत्र कहीं से कटा-फटा न हो। लाल चंदन को घिस कर उसका लेप बना लें। मोर पंख की कलम बना लें। मोर पंख में लाल चंदन लगा कर नीचे दिये अनुसार 15 का यंत्र बनाएं। चंदन सूख जाने के बाद इस यंत्र को अपने पास सदा रखें, या चांदी के ताबीज में रख कर गले में डाल लें, या बांह पर बांध लें। देखेंगे कि सफलताएं मिलने लगी हैं।
4 9 2
3 5 7
8 1 6

loading...
loading...

Leave a Reply